# # # # #
Questionnaire

क्या आप जानते हैं की  मध्य प्रदेश के 7 शहर - इंदौर, भोपाल, उज्जैन, सतना, सागर, जबलपुर, ग्वालियर - देश भर से चुने गए 100 शहरों में से हैं जिन्हे स्मार्ट सिटी बनाया जाएगा? 

भारत सरकार के अनुसार, स्मार्ट सिटी शहर के भीतर एक ऐसा क्षेत्र होगा जहाँ 24 घंटे जलापूर्ति/बिजली, छतों पर सोलर पैनल, स्मार्ट पार्किंग, उत्तम सुरक्षा व्यवस्था आदि जैसी समस्त अति आधुनिक सुविधाओं होंगी तथा नौकरी और व्यवसाय के लिए पर्याप्त अवसर होंगे। शहर में मूलभूत अवसंरचना  (सड़कों, पुलों, नालियों आदि) का निर्माण शासन की अन्य योजनाओं से किया जाएगा. स्मार्ट सिटी में उन नवाचारों को लाया जायेगा जिससे शहर अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बन सके. 

इन शहरों को अगले पांच वर्षों में सरकार की ओर से 1,000 करोड़ स्मार्ट सिटी के विकास के लिए मिलेंगे। लेकिन इस वर्ष, भारत सरकार केवल उन 20 शहरों को वित्तीय सहायता देगी जोकि अन्य शहरों की तुलना में सबसे अच्छा प्रस्ताव प्रस्तुत करंगे। अगर हमारे राज्य के शहर भारत के प्रथम 20 स्मार्ट शहरों में चयनित हो जायें तो यह हम सबके लिए गर्व की बात होगी।

हम स्मार्ट सिटी के लिए आपकी नवीन, उत्तम कल्पना और बहुमूल्य राय जानना चाहते हैं ताकि हमारे शहरों का प्रस्ताव बाकी शहरों से बेहतर बन सके। जुड़िये अपने शहर की स्मार्ट सिटी योजना से और बनाइये अपने सपनों का शहर।  

 

View Sample Questionnaire


Handbook of Smart Solution
 
Smart City Features
 
Strategy
 
Challenges
The site is sponsored by Madhya Pradesh Urban Service for Poor (DFID-UK and Government of MP Project)
Web Content Managed by City Managers' Association MP, Site Designed & Maintained by CRISP, Bhopal (M.P.), India